Nobel Prize 2022 Winners List in Hindi: नोबेल पुरस्कार विजेता सूची

nobel prize 2022 winners list hindi
Nobel Prize 2022 Winners List in Hindi : वर्ष 2022 के लिए नोबेल पुरस्कार (Nobel Puraskar) विजेताओं की घोषणा कर दी गयी है। 
अल्फ्रेड नोबेल की याद में प्रति वर्ष यह पुरस्कार स्टॉकहोम, स्वीडन में Nobel Foundation द्वारा प्रदान किया जाता है।
Nobel Puraskar  विश्व में कुल छह (06) श्रेणियों में आसाधारण कार्य करने वाले लोगो को प्रति वर्ष दिया जाता है।
वर्ष 2022 के लिए भौतिकी, रसायन, चिकित्सा, शांति, साहित्य और अर्थशास्त्र नोबेल पुरस्कार विजेताओं की सूची जारी कर दी गयी है।
इस लेख में हम Nobel Puraskar 2022 Winners की विस्तृत जानकारी प्राप्त करेंगे। 

Nobel Prize 2022 Winners List in Hindi:   

वर्ष 2022 के लिए नोबेल पुरस्कार विजेताओं की सूची जारी कर दी गयी है। इस वर्ष कुल 14, Nobel Puraskar विजेताओं का ऐलान किया गया है।
यह पुरुस्कार प्रत्येक श्रेणी में कम से कम एक व्यक्ति या अधिकतम तीन लोगो को दिया जा सकता है। 
प्रतिवर्ष पुरुस्कार विजेताओं की घोषणा अक्टूबर माह में की जाती है। लेकिन पुरुस्कारो का वितरण अल्फ्रेड नोवेल की पुण्यतिथि (10 दिसंबर) को दीया जाता है। 

प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष (2022) के पुरुस्कारो की घोषणा नोवेल फाउंडेशन द्वारा कर दी गयी है। 

Nobel Foundation :

नोबेल फाउंडेशन की स्थापना वर्ष 1900 में एक निजी संस्थान (बोर्ड) के रूप में की गयी थी। 
इस संस्थान का मुख्य कार्य अल्फ्रेड नोबेल की वसीयत में नियुक्त संस्थानो को वित्तीय प्रबंधन की व्यवस्था करना है।
प्रति वर्ष Nobel Puraskar Winners  का ऐलान भी नोबेल फाउंडेशन द्वारा ही किया जाता है।
नोबेल फाउंडेशन , नोबेल पुरस्कार प्रदान करने वाले संस्थानों द्वारा चुना गया एक बोर्ड है। जिसका मुख्यालय स्टॉकहोम, स्वीडन में स्थित है। 
प्रारम्भ में Nobel Puraskar  कुल 05 विषयो (भौतिकी, रसायन, साहित्य, शांति और मेडिसिन) के लिए प्रदान किये जाते थे। 
वर्ष 1968 में Sveriges Riksbank ने अपने 300वी वर्षगांठ पर अर्थशास्त्र में Sveriges Riksbank Prize की स्थापना की।
जिसे 1969 में पहली बार अर्थशास्त्र में नोबेल के रूप में रॉयल स्वीडिश एकेडमी ऑफ साइंसेज द्वारा प्रदान किया गया।
Nobel Puraskar का चयन करने वाले प्रमुख संस्थान निम्न है। 

 पुरस्कार 

 प्रदान करने वाले संस्थान 

 भौतिकी, रसायन, अर्थशास्त्र 

 रॉयल स्वीडिश एकेडमी ऑफ साइंसेज

 फिजियोलॉजी या मेडिसिन 

 करोलिंस्का इंस्टिट्यूट में नोबेल असेंबली 

 साहित्य 

 स्वीडिश एकेडमी 

 शांति 

 नॉर्वेजियन नोबेल समिति

 इन संस्थानों का प्रमुख कार्य विजेताओं का चयन एवं उनकी घोषणा करना है। 

Nobel Prize 2022 Winners in Physics in Hindi :

वर्ष 2022 के भौतिकी (Physics) का नोबेल पुरस्कार, निम्न  तीन लोगो को संयुक्त रूप से दिया गया। 
  1. Alian Aspect (फ्रांस)
  2. John F. Clauser (USA)
  3. Anton Zeilinge (ऑस्ट्रिया) 
इन्हे यह पुरस्कार फोटॉन के साथ प्रयोग एवं क्वांटम सूचना विभाग की स्थापना के लिए दिया गया।
इसका ऐलान रॉयल स्वीडिश एकेडमी ऑफ साइंसेज के महासचिव प्रो. हैंस द्वारा 04 अक्टूबर 2022 को किया गया।
नोट - भारत के सी वी रमन (1930) और एस चंद्रशेखर (1983) को भौतिकी में नोवेल पुरुस्कार मिल चूका है। 

Nobel Prize 2022 Winners in Chemistry in Hindi

वर्ष 2022 के रसायन (Chemistry) का Nobel Puraskar निम्न तीन लोगो को दिया गया है। 
  1. Carolyn R.Bertozzi (USA)
  2. Morten Meldal (डेनमार्क)
  3. K.Barry Sharpless (USA)
नोट - K.Barry Sharpless का यह दूसरा नोवेल पुरस्कार है। इससे पहले उन्हें 2001 में भी रसायन का नोबेल पुरुस्कार मिल चूका है।
इन तीनो को यह पुरस्कार क्लिक केमिस्ट्री और बायोथोगोनल (Bio-orthogonal) केमिस्ट्री के विकास के लिए प्रदान किया गया। 
इसका भी  ऐलान रॉयल स्वीडिश एकेडमी ऑफ साइंसेज के महासचिव प्रो. हैंस द्वारा 04 अक्टूबर 2022 को किया गया।

The Nobel Prize 2022 Winners in Physiology or Medicine in Hindi

वर्ष 2022 के चिकित्सा (Physiology or Medicine) का नोबेल पुरस्कार स्टॉकहोम (स्वीडन) के Svante Paabo को दिया गया। 
Svante Paabo को यह पुरस्कार लुप्त हो रहे होमिनिन और मानव विकास के जीनोम की खोज के  लिए दिया गया है। 
इस पुरस्कार की घोषणा नोबेल असेंबली के महासचिव प्रो. थॉमस पर्लमैन द्वारा 03 अक्टूबर 2022 को किया गया। 

Nobel Prize 2022 Winners in Literature in Hindi 

वर्ष 2022 के साहित्य का नोबेल पुरस्कार फ्रेंच लेखिका Annie Ernaux (फ्रांस) को दिया गया। 
एनी एर्नॉक्स का जन्म 01 सितम्बर 1940 को फ्रांस के लिलेबोंने शहर में हुआ था। जहाँ ये वर्तमान समय में साहित्य प्रोफेसर के रूप में कार्यरत है। 
उनके लेखन में समाज में व्याप्त असमानता (लिंग, भाषा, वर्ग) की  गहरी छाप दिखाई पड़ती है। 
उनके उपन्यास A Man's Place, A Woman's Story, Years काफी लोकप्रिय हुए। 

Nobel Prize 2022 Winners in Economic Science in Hindi

वर्ष 2022 के लिए अर्थशास्त्र विज्ञान का नोबेल पुरस्कार निम्न तीन लोगो को दिया गया है। 
  1. Ben Bornanke (USA)
  2. Douglas Diamond (USA)
  3. Philip H.Dybvig (USA)
इन्हे यह पुरस्कार बैंको और वित्तीय कठिनाइयों पर शोध के लिए दिया गया। इसका ऐलान रॉयल स्वीडिश एकेडमी ऑफ साइंसेज के महासचिव प्रोफेसर हैंस एलेग्रेन ने 10 अक्टूबर 2022 को किया। 

नोट - अर्थशास्त्र (Economic) के नोवेल पुरुस्कार को "Sveriges Riksbank Prize" या "नोबेल स्मृति पुरस्कार" के नाम से भी जाना जाता है।  
इसकी शुरुआत 1968 में Sveriges Riksbank की 300वी वर्षगांठ पर हुई थी। Sveriges Riksbank स्वीडन का केंद्रीय बैंक है। 

Nobel Peace Prize 2022 Winners in Hindi

वर्ष 2022 के लिए शांति  का नोबेल पुरस्कार निम्न तीन लोगो को दिया गया है। 
  1. Ales Bialiatski (Russia)
  2. Memorial (रुसी मानवाधिकार संगठन)
  3. Center for civil liberties (यूक्रेनी मानवाधिकार संगठन)

Ales Bialiatski (Russia) - इनका जन्म 25 सितम्बर 1962 को रूस में हुआ था। 1980 के दशक के मध्य बेलारूस में हुए लोकतंत्र आंदोलन से इन्हे पहचान मिली। 
बेलारूसी राष्ट्रपति को तानाशाही शक्तियाँ प्रदान करने वाले संवैधानिक संसोधनो के जवाब में 1996 में Viasna नामक संगठन की स्थापना की। 
वर्तमान समय में अलेस बिल्लिएट्सकी जेल में बंद है। जेल में रहकर Nobel Puraskar पाने वाले Bialiatski विश्व के चौथे व्यक्ति है। 

Memorial (रुसी मानवाधिकार संगठन) - इसकी स्थापना वर्ष 1987 में हुई थी।  इसे रूस का सबसे बड़ा मानवाधिकार संगठन माना जाता है। 
यह रूस में हो रहे उत्पीड़न एवं मानवाधिकार उलंघन का रिकॉर्ड तैयार करता है। वर्तमान समय में इसे रूस में प्रतिबंधित कर दिया गया है। 
Center for civil liberties (यूक्रेनी मानवाधिकार संगठन) - इसकी स्थापना वर्ष 2007 में कीव (यूक्रेन) में की गयी थी। रूस-यूक्रेन युद्ध में इस संगठन ने लोगो की काफी मदद की है। 

नोबेल पुरस्कार क्या है? 

 Nobel Puraskar को दुनियाँ का सबसे प्रतिष्ठित एवं सर्वोच्च पुरस्कार माना जाता है। इसकी स्थापना स्वीडन के प्रशिद्ध वैज्ञानिक Alfred Nobel ने अपने वसीयत में की थी। 
अल्फ्रेड नोबेल की वसीयत के अनुसार उनकी संपत्ति से मिलने वाली वार्षिक आय को पुरस्कार के रूप में लोगो को प्रदान की जाय। 
 पुरस्कार प्रति वर्ष उन लोगो को दिया जाए जिन्होंने पिछले वर्ष मानव समाज के लिए कुछ बड़ा कार्य किया हो। 
 भौतिकी, रसायन, साहित्य, अर्थशास्त्र, मेडिसिन और शांति के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान के लिए विश्व के किसी भी व्यक्ति को यह पुरस्कार दिया जा सकता है। 

Nobel Puraskar विजेता को एक स्वर्ण पदक, स्वीडस नागरिकता में छूट, और एक मुश्त धनराशि प्रदान की जाती है। 

Alfred Nobel (अल्फ्रेड नोबेल)

अल्फ्रेड नोबेल का जन्म 21 अक्टूबर 1933 में स्वीडन के स्टॉकहोम शहर में हुआ था। इनके पिता का नाम इमैनुएल नोबेल और माता का नाम एंड्रिट अहलसेल नोबेल था। 
इनके पिता एक इंजीनियर और महान अविष्कारक थे। उन्हें पुलों एवं इमारतों के आधुनिक निर्माण में महारत हासिल थी।  अल्फ्रेड जब महज 09 वर्ष के थे तभी उनके पुरे परिवार को स्वीडन छोड़कर रूस जाना पड़ा। 

 नाम 

अल्फ्रेड नोबेल  

जन्म 

21 अक्टूबर 1833 

जन्म स्थान 

 स्टॉकहोम, स्वीडन 

मृत्यु 

10 दिसंबर 1896 

पेशा 

वैज्ञानिक, उद्यमी, लेखक 

 महान खोज 

 डायनामाइट 

 दान राशि 

 265 मिलियन डॉलर 

 संस्थापक  

 नोबेल पुरस्कार 


महज 17 वर्ष की आयु में अल्फ्रेड ने 05 (फ्रेंच, रूसी, स्वीडिश, अंग्रेजी और जर्मन) भाषाओं में महारत हासिल कर ली थी। बचपन से ही इनका साहित्य एवं विज्ञान में काफी रुचि रही। 
इनके पिता ने इन्हे केमिकल इंजीनियर की पढाई के लिए पेरिस भेजा। यहाँ इन्होने नईट्रोग्लिसरीन (विस्फोटक तरल) पर गहन अध्यन किया। 
वर्ष 1863  में नोबेल फैमिली स्वीडन वापस लौट आती है। यहाँ पर आकर अल्फ्रेड ने नाइट्रोग्लिसरीन के साथ प्रयोग को तीव्र गति प्रदान की। 
फलस्वरूप 1866 में इन्होने डायनामाइट नामक विध्वंशक विस्फोटक की खोज की। जिसे 1867 में पेटेंट (क़ानूनी अधिकार) मिला। इसके अलावा इन्होने Detonator या ब्लास्टिंग कैप की भी खोज की। 
अपने पुरे जीवन काल में इन्होने 355 से ज्यादा अविष्कार किये। 

Indian Nobel Prize Winners List in Hindi

भारत में अब तक 10 व्यक्तियों को यह पुरुस्कार मिल चूका है। Indian Nobel Prize Winners List In Hindi निम्न है। 

नाम  

 वर्ष 

पुरस्कार  

रविंद्र नाथ टैगोर 

 1913 

 काव्य संग्रह गीतांजलि के लिए (साहित्य) 

सी वी रमन  

 1930 

 रमन प्रभाव के लिए (भौतिकी)

हरगोविंद खुराना 

 1968 

 कृत्रिम जीन के संश्लेषण के लिए (चिकित्सा) 

मदर टेरेसा  

 1979 

 समाज सेवा सम्बंधित कार्य के लिए (शांति)

सुब्रह्मण्यम चंद्रशेखर 

 1983 

 चंद्रशेखर सीमा के लिए (भौतिकी) 

अमर्त्य सेन 

 1998 

 कल्याणकारी अर्थशास्त्र के लिए (अर्थशास्त्र) 

वी एस नायपाल 

 2001 

 लेखन के लिए (साहित्य) 

 वेंकेट रमण रामकृष्ण 

 2009 

 राइबोसोम की सरंचना एवं कार्यप्रणाली शोध (रसायन)

 कैलाश सत्यार्थी 

 2014 

 शांति में 

 अभिजीत बनर्जी 

 2019 

 अर्थशास्त्र 


नोट - महात्मा गाँधी जी को 1937,1938,1939.1947 और 1948 (कुल 05 बार) शांति पुरुस्कार के लिए नामित किया गया था। लेकिन दुर्भाग्य वश इन्हे एक बार भी यह पुरुस्कार नहीं मिला। 


Nobel Prize 2022 FAQ'S

नोबेल पुरस्कार 2022 विजेताओं की सूची


प्रश्न - नोबेल पुरस्कार क्यों दिया जाता है 
उत्तर - यह पुरस्कार मानव समाज के भलाई में योगदान देने वाले लोगो को प्रोत्साहित करने के लिए प्रति वर्ष दिया जाता है। 
इससे  मानव जाति के विकास में योगदान दे रहे लोगो को आर्थिक मदद प्रदान की जाती है। जिससे अधिक से अधिक लोग मानव कल्याण कार्यो के प्रति जागरूक हो। 

प्रश्न - Nobel Puraskar  कितने क्षेत्रो में दिया जाता है 
वर्तमान समय में नोवेल पुरस्कार निम्न 06 क्षेत्रो में दिया जाता है। 
  1. भौतिकी 
  2. रसायन 
  3. अर्थशास्त्र 
  4. साहित्य 
  5. चिकित्सा 
  6. शांति 

प्रश्न - नोबेल पुरस्कार किस क्षेत्र में नहीं दिया जाता है
नोवेल पुरुस्कार  केवल 06 क्षेत्रो (भौतिकी,रसायन,अर्थशास्त्र,चिकित्सा और शांति) में दिया जाता है। इसके अलावा यह किसी भी अन्य क्षेत्र में नहीं दिया जाता। जैसे -
  • गणित 
  • इंजीनियरिंग
  • जीव विज्ञान
  • पर्यावरण 
  • मनोरंजन 
  • खेल 
  • संगीत 
  • अंतरिक्ष विज्ञान 

प्रश्न - नोबेल पुरस्कार की शुरुआत कब हुई

अल्फ्रेड नोबेल ने अपनी अंतिम वसीयत (1895) में नोबेल पुरस्कार देने का उल्लेख किया था। 1896 में इनकी मृत्यु के बाद इस वसीयत पर विवाद खड़ा हो जाता है। जिसके कारण आगामी 05 वर्षो तक यह पुरस्कार नहीं दिया जाता है। 
आख़िरकार 1901 में पहली बार नोबेल पुरस्कार प्रदान किये जाते है। अतः नोवेल पुरस्कार की शरुआत 1901 में हुई थी। 

अर्थशास्त्र में नोबेल पुरस्कार की शुरुआत कब हुई

अर्थशास्त्र (Economics) में नोबेल की शुरुवात 1969 से हुई। इससे पहले नोबल पुरस्कार  केवल 05 श्रेणियों में ही दिए जाते थे। 
वर्ष 1968 में Sveriges Riksbank ने अपने 300वी वर्षगांठ पर अर्थशास्त्र में Sveriges Riksbank Prize की स्थापना की।
इसीलिए अर्थशास्त्र के नोबेल को नोबेल स्मृति पुरस्कार या Sveriges Riksbank Prize के नाम से भी जाना जाता है। 


नोबेल पुरस्कार की राशि कितनी है 

नोबल  पुरस्कार की राशि अल्फ्रेड नोबेल की संपत्ति से प्राप्त वार्षिक  व्याज पर निर्भर करती है। जो वर्ष 2022 के लिए 10 मिलियन स्वीड्स क्रोनर (SEK) है। 
10 मिलियन स्वीड्स क्रोनर (SEK) = 7.5 करोड़ रुपए (INR)

एक साल में कितने नोबल पुरस्कार दिए जाते है 
प्रत्येक श्रेणी में एक वर्ष में अधिकतम तीन लोगो को यह पुरस्कार दिया जा सकता है। अतः एक वर्ष में अधिकतम 18 लोगो (06 श्रेणी) को नोबेल पुरस्कार दिया जा सकता है। 

नोबल पुरस्कार कौन सा देश देता है  
नोबल पुरस्कार मुख्यतः नोबेल फाउंडेशन द्वारा दिया जाता है। जिसका मुख्यालय स्टॉकहोम, स्वीडन में स्थित है। 
शांति का नोबल पुरस्कार नॉर्वेजियन नोबेल समिति द्वारा नार्वे में दिया जाता है। ऐसा इसलिए है की अल्फ्रेड नोबेल के समय नार्वे और स्वीडन एक ही संघ का हिस्सा थे। 
अतः Nobel Puraskar, दो देशो (स्वीडन और नार्वे) द्वारा प्रदान किये जाते है। 

नोबेल पुरस्कार विजेता भारतीय सूची (Indian Nobel Prize Winners List)

नोबल पुरुस्कार विजेता भारतीय सूची (Indian Nobel Prize Winners List) निम्न है। 

नाम  

 वर्ष 

रविंद्र नाथ टैगोर 

 1913 

सी वी रमन  

 1930 

हरगोविंद खुराना 

 1968 

मदर टेरेसा  

 1979 

सुब्रह्मण्यम चंद्रशेखर 

 1983 

अमर्त्य सेन 

 1998 

वी एस नायपाल 

 2001 

वेंकेट रमण रामकृष्ण 

 2009 

कैलाश सत्यार्थी 

 2014 

अभिजीत बनर्जी 

 2019 


इनमे से कुछ का सिर्फ जन्म स्थान (उनका या उनके माता/पिता ) भारत में रहा है। जबकि उनके पास किसी अन्य देश की नागरिकता थी। 

विश्व में प्रथम नोबेल पुरस्कार विजेता कौन है 

विश्व में सर्वप्रथम नोबल पुरस्कार विजेता, विल्हेल्म कौनराड रोंटजन (Wilhelm Conrad Röntgen) है। उन्हें 1901 में पहले नोबल पुरस्कार समारोह में भौतिकी का नोबेल सबसे पहले दिया गया था। 
वर्ष 1901 में प्राप्त नोबल पुरस्कार विजेताओं की सूची निम्न है। 
  • भौतिकी - विल्हेल्म कौनराड रोंटजन 
  • रसायन - जैकोबस हेनरिकस वैन 'टी हॉफ'
  • चिकित्सा - एमिल एडॉल्फ वॉन बेहरिंग
  • साहित्य - सुली प्रुधोमे
  • शांति - जीन हेनरी डुनेंट, फ़्रेडरिक पस्सी 

 रवीन्द्र नाथ टैगोर को नोबेल पुरस्कार कब मिला (Rabindra Nath Tagore Nobel Prize)

वर्ष 1913 में रबीन्द्र नाथ टैगोर जी को साहित्य का नोबेल पुरस्कार मिला। उनको यह पुरस्कार उनके काव्य संग्रह गीतांजलि के लिए दिया गया। 
गीतांजलि का अंग्रेजी अनुवाद अंग्रेज कवि W.B. Yeats ने 1910 में किया था। 1912 में गीतांजलि का अंग्रेजी अनुवाद प्रकाशित किया गया। 

प्रथम नोबेल पुरस्कार विजेता भारतीय  

प्रथम नोबेल पुरस्कार विजेता भारतीय, रवीन्द्र नाथ टैगोर जी है। इनका जन्म कलकत्ता में 07 मई 1861 को हुआ था। इन्हे गुरुदेव उपनाम से भी जाना जाता था। 
इन्होने दो देशो (भारत और बांग्लादेश) का राष्ट्रगान लिखा है। 07 अगस्त 1941 को गुरुदेव का निधन कोलकत्ता में हो गया। 
नोबल पुरस्कार जीतने वाले प्रथम एशियाई कौन थे 
नोबल पुरस्कार जीतने वाले प्रथम एशियाई, रबीन्द्र नाथ टैगोर जी थे। 

नोबेल पुरस्कार 2022 विजेताओं की सूची (Nobel Prize 2022 Winners List in Hindi)

वर्ष 2022 में दिए गए Nobel Puraskar Winners List निम्न है। 
  • भौतिकी - Alian Aspect (फ्रांस), John F. Clauser (USA), Anton Zeilinge (ऑस्ट्रिया)
  • रसायन - Carolyn R.Bertozzi (USA), Morten Meldal (डेनमार्क), K.Barry Sharpless (USA)
  • अर्थशास्त्र - Ben Bornanke (USA), Douglas Diamond (USA), Philip H.Dybvig (USA)
  • साहित्य - Annie Ernaux (फ्रांस)
  • चिकित्सा -  Svante Paabo
  • शांति - Ales Bialiatski (Russia), Memorial,  Center for civil liberties

सबसे कम उम्र में नोबेल पुरस्कार पाने वाले व्यक्ति कौन है 

सबसे कम उम्र में नोबल पुरस्कार पाने वाली मलाला युसूफ जई है। लेकिन यदि लिंग के आधार पर प्रश्न पूछा जाता है तो उसका उत्तर निम्न होगा। 
  • पुरुष - लॉरेंस ब्रैग (25 वर्ष)
  • महिला - मलाला युसूफ जई (17 वर्ष)
अब तक कुल कितने व्यक्तियों को दो बार नोबल पुरस्कार मिला है 
अब तक कुल 05 व्यक्तियों को दो बार नोबल पुरस्कार मिल चूका है। 
  1. मैडम क्यूरी - 1903 (भौतिकी), 1911 (रसायन)
  2. लीनस पॉलिंग - 1954 (रसायन), 1962 (शांति)
  3. जान बारडीन - 1956 (भौतिकी), 1972 (भौतिकी)
  4. फ्रेडरिक सेंगर - 1958 (रसायन), 1980 (रसायन)
  5. K.Barry Sharpless - 2001 (रसायन), 2022 (रसायन)
उपरोक्त लेख में हमने Nobel Prize 2022 Winners List in Hindi  की विस्तृत जानकारी प्राप्त की। जिससे आपको विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओ में Nobel Puraskar 2022 से जुड़े प्रश्नो को solve करने में आसानी होगी। 
यदि आपके मन में अभी भी नोबेल पुरस्कार विजेता सूची से जुड़ा कोई प्रश्न/सुझाव हो तो हमसे अवश्य साझा करे। 

    0/Post a Comment/Comments

    और नया पुराने